Hindi love poem: महज एहसास की बात है!

0
couple holding hands

ये महज 
एहसास की बात है 
उसे कभी भी 
महसूस कर लिया !

वह दूर होकर 

फिर भी ,
सदा पास ही रहा ..
बिछड़ा ही कब मुझसे ?

– रंजन कुमार