Hindi love poetry : उसने दिल से ही पुकारा होगा – Ranjan Kumar

0

love

उसने दिल से ही 
पुकारा होगा …
फिर दिल तक 
उसकी आवाज 
क्यों नहीं आयी…?

या मैं इतना व्यस्त था 

कि उसे सुन न सका …
या फिर पुकार 
इतनी धीमी थी कि 
मुझतक आते आते ..
तरंगे हीं मर गयीं ?

– रंजन कुमार