Hindi Poetry : जमीं से कभी आसमां मिल नहीं सकता

horizontal
किसी को कहते 
सुना था कभी ,
.
की जमीं से ,
कभी आसमां 
मिल नहीं सकता !
.
क्षितिज को यही बात ,
बुरी लग गयी शायद !
 
– Vvk
Share
Pin
Tweet
Share
Share