धड़कनों के स्पंदन को सुनना सन्नाटे से गुजर कर

0
alone boy walking

धड़कती धड़कनों का स्पंदन,
तुम्हें सब .. सुनायी देगा !
.
जब खुद के पैदा किये शोर से
दूर हो एक सन्नाटे से गुजरोगे !!

– रंजन कुमार