कहीं जो चिराग रखा हो बारिशों के ही हिफाजत में

person standing alone


चलो तुम आंधियाँ..
खरीद ले जाओ सब
खिलाफ मेरे ,
मुझे तो बस डर
ये है .. चिराग
मेरा , रखा ना हो
कहीं बारिशों की
हीं हिफाजत में !
 
– Vvk
Share
Pin
Tweet
Share
Share